On Page SEO Kaise Kare ? जाने 23 Best Techniques in Hindi

On Page SEO Kaise Kare ? में जानते हैं. On Page SEO से Blog की ट्रैफिक को कैसे बढ़ाये? और On Page SEO क्या हैं? सीखे विस्तार से 23 Best On Page SEO Techniques को Hindi में.

जो आपके ब्लॉग पोस्ट के लिए वरदान साबित होगी. जिसे SEO के Categories से लिया गया जहा SEO से जुड़े सभी सवालो के जवाब उपलब्ध हैं.

On Page SEO Hindi Guide Hindi जो आप सभी Bloggers के लिए उपयोगी साबित होने वाली हैं, On Page SEO Kaise Kare ? पोस्ट में सीखेंगे on Page SEO Techniques को 

जिससे हम अपने ब्लॉग के लिए Organic Traffic पा सकते हैं और धिक से अधिक अपने ब्लॉग से Online Earning कर सकते हैं.

Blogging Field में सफलता या असफलता आपके हाथो में होती हैं. Blogging Field में असफल वही होता हैं जो SEO से जुड़े Guidelines को Follow नहीं करता हैं.

और साथ ही  SEO Techniques को नहीं अपनाते और इसे हम नज़र अंदाज़ कर देते हैं. जो Blogging Field में असफल होने की सबसे बड़ी वजह होती हैं. 

   नोट:-   अगर आप SEO क्या हैं? नहीं जानते हैं तो सबसे पहले हमारे द्वारा की गई पोस्ट “एस.इ.ओ. क्या है?” की को जरुर पढ़े ताकि आप विस्तार से समझ पाए SEO क्या हैं इसके क्या हैं फायदे और क्यों होता हैं जरुरी एक ब्लॉगर के लिए.

  Also Read More:    What Is SEO And How It Works In Hindi

अगर आपको Success पाना हैं Blogging Field में और Online Earning करना हैं तो, आपको जरुर सिखना होगा SEO Techniques को एक-एक करके ताकि आप भी बन सके एक Successful Blogger. 

On Page SEO Kaise Kare ? पोस्ट में आपके दिमाग में चल रहे  तमाम ऑन पेज सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन से जुड़े सवालों का जवाब मिलेगा Step By Step

On Page SEO Kaise Kare

On Page SEO Kaise Kare ? 23 Best Techniques

तो आईये शुरुआत करे On Page SEO Kaise Kare ? के पोस्ट की और जाने On Page SEO  से जुड़े दिमाग में चल रहे  सवालों के जवाब को की :-

  1. On Page SEO Kya hain?
  2. On Page SEO Kya hain fayade?
  3. On Page SEO  kyu jaruri hain?
  4. On Page SEO Kaise Kare ?
  5. On-Page SEO ke Major Factors kya hain?

On Page SEO Kya Hain? 

आईये सबसे पहले जानते हैं कि ऑन पेज एसीईओ क्या हैं?  “On Page SEO”  एक ऐसी तकनीक हैं जिसका उपयोग करके हम अपने ब्लॉग या पोस्ट को Search Engine के Rules के अनुसार Optimization कर सकते हैं.

ताकि हमारे Article को Google Crawlers जल्द से जल्द Crawl कर हमारे ब्लॉग या पोस्ट को अपने Search Result में Show कर सके.

What is On Page SEO Hindi :- साधारण भाषा में कहे तो ऑन पेज एसीईओ Google Search Algorithm Guidelines को Follow करने वाली एक Guide हैं.

या यु कहे यह आपके ब्लॉग या आर्टिकल को Search Engine Friendly बनाने से जुड़े SEO का ही एक पार्ट हैं जिसे हम On Page SEO कहते हैं.

On Page SEO क्या हैं फायदे?

हर एक ब्लॉगर चाहता हैं कि उसका आर्टिकल गूगल के First Page पर Rank हो.  ताकि वह ज्यादा से ज्यादा Online Earning कर सके एक Successful Blogger की तरह.

अगर आप भी सफल होना चाहते हैं तो, आपको अपनाना होगा आप भी SEO Techniques के तमाम Optimization Factors को.

क्युकि  On Page Search Engine Optimization भी एक महत्चपूर्ण हिस्सा हैं SEO का, और इसका उपयोग करने से हमारा ब्लॉग या पोस्ट गूगल Robot की नज़र में जल्दी आता हैं.

Google Crawlers हमारे द्वारा किये गए On Page SEO के तमाम Factors को Crawl करता हैं और Google Guidelines Rule के अनुसार  सभी Factors सही पाए जाने पर हमारे आर्टिकल को Better Ranking के साथ अपने Database में Submit कर लेता हैं.

जिसकी वजह से आपकी पोस्ट को सर्च इंजन में एक अच्छी Ranking मिलती हैं. और आप का आर्टिकल Search Result के First Page पर  Rank करने लगता हैं.

On Page SEO  क्यों जरुरी है?

अगर आप ऑनलाइन पैसे कमाने के बारे में सोच रहे हैं? एक Successful Blogger की तरह और Blogging Field में अपनी पहचान बनाने चाहते हैं Popular Blogger की तरह तो आप को Search Engine से जुडी बातो का खास कर ध्यान रखना होगा.

क्युकि Google Search Engine  से ही ब्लॉग पर हमें Organic Traffic मिलती हैं . इसी लिए कहा गया हम कितनी भी मेहनत कर ले अपने ब्लॉग या पोस्ट पर अगर वह Google पर Rank नहीं किया तो सारी मेहनत बेकार हो जाती हैं.

तो अपनी मेहनत को बेकार होने से बचाए और On Page SEO का इस्तेमाल अपने ब्लॉग और आर्टिकल पर करे क्युकि  यह आपके  ब्लॉग को Powerful बनाता हैं.

और  Search Result में आपके आर्टिकल की Ranking Increase करने में मदद करता हैं. इसी लिए On Page के तमाम Factor को इस्तेमाल करना जरुरी होता हैं.

आशा करता हूँ आपको ” On Page SEO Kaise Kare? ”  की पोस्ट द्वारा पता चल गया होगा कि On Page SEO के क्या हैं फायदे?  और क्यूँ जरुरी होता हैं यह तकनीक  का इस्तेमाल करना Blog या Article  पर.

On Page SEO Kaise Kare ? जाने 23 Best Techniques in Hindi

On Page SEO Kaise Kare ?

तो आईये अब देर कैसी सीखते हैं. On Page SEO Kaise Kare ? और अपने ब्लॉग पोस्ट  को कैसे Search Engine Friendly बनाये. और अपने Article पर Organic Traffic कैसे लाये गूगल सर्च इंजन से?

Best On Page SEO Kaise Kare ?  पोस्ट को और अधिक सरल और आसान बनाने के लिए इसे  दो समूह (Group) में विभाजित (Split) किया हैं.

ताकि आप अच्छे से सीख सके Kaise Kare On Page SEO की Effective Techniques को. और इन्ही Techniques को अपना कर एक सफल ब्लॉगर बन सके.

तो जानते हैं अब एसईओ के दो ग्रुप को जो ऑन पेज एसईओ की सुविधा के लिए विभाजित किया गया हैं. जिनका हम इस्तेमाल एक-एक कर के करना सीखते हैं..

On Page Blog Article Post SEO
1 On Page Blog SEO 2 On Page Article Post SEO

तो आपने जाना की दो Type से ऑन पेज एसईओ किया जाता हैं. और सभी Popular Blogger इन दोनों Techniques का बड़ी बारीकी से इस्तेमाल करते हैं और पूरा फायदा उठाते हैं Search Result की Ranking में.

तो आईये सबसे पहले सीखते हैं On Page SEO Kaise Kare की इस पोस्ट में ” ब्लॉग का एसईओ कैसे करे?” और इसके क्या-क्या हैं  Important Factor जो हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं.

Blog SEO क्या हैं?

सबसे पहले हम On Page SEO Kaise Kare ? में सीखते हैं अपने ब्लॉग / वेबसाइट को एसईओ के Rules को Follow करते हुए ऑप्टिमाइजेशन करने के तरीको को,

जो हमारे ब्लॉग को Search Engine Friendly बनाएगा और गूगल सर्च रिजेल्ट पर हमारे आर्टिकल को No.1 Position पर लाने में मदद करेगा.

आज के टाइम में जितने भी Professional Bloggers हैं, वो अपने ब्लॉग को सबसे पहले User Friendly बनाते हैं. ताकि ब्लॉग पर आने वाले Visitors को एक Unique Experience मिल सके. 

On Page Blog Optimization से Search Engine के Crawlers को भी आपके ब्लॉग को Crawl करने में आसानी होती हैं. 

नोट:- अब आपको समझ में आ गया होगा संक्षेप में On Page Blog SEO  क्या हैं. क्यूँ सभी Successful Blogger इसका इस्तेमाल करते हैं.

On-Page SEO Blog Techniques hindi

On-Page SEO Blog Techniques

Blog का SEO करते Time हम ख़ास उन-उन बातों का ध्यान रखना चाहिए. जिससे हमारा ब्लॉग User Friendly हो सके, ताकि हमारे ब्लॉग में दिए गए सभी पाठ्यक्रम या विशेषताएँ या वेबसाइट पर उपलब्ध कराये जाने वाली सामग्री को User आसानी से पढ़ सके.

User Friendly ब्लॉग बनाने के साथ-साथ हम Search Engine को भी ध्यान में रखते हैं. और सर्च इंजन से जुड़े नियमो को Follow करते हुए SEO की Techniques का इस्तेमाल करते हैं.

अब आप सोच रहे होंगे ऑन पेज ब्लॉग एसईओ की तकनीक और कैसे अपने ब्लॉग पर इस तकनीक का इस्तेमाल कर सकते हैं. तो आइये सीखते हैं एक-एक करके “On Page SEO Kaise Kare” की इस post में ब्लॉग का एसईओ करना, बिना किसी रुकावट के.

Blog On Page SEO Kaise Kare

1 –  Domain
Blog SEO की शुरुवात सबसे पहले डोमिन से  होता हैं क्युकि यह हमारे ब्लॉग का एड्रेस होता हैं और अपने ब्लॉग का Domain एसा लेना चाहिए जो आपके ब्लॉग Niche से मिलता जुलता हो. 

सरल शब्दों में समझे तो आपके Domain में आपके Blog Niche से जुड़ा कोई  ना कोई Keyword होना चाहिए 

2 – Hosting

जैसा की देखा जाता हैं अधिकतर Beginners Hosting को चुनते समय ही सबसे बड़ी गलती करते हैं . और अधिक वेब होस्टिंग की जानकारी नहीं होने पर कोई सी भी Cheap (सस्ती ) होस्टिंग ले लेते हैं.

जिसके कारण हमारे ब्लॉग की स्पीड कम हो जाती अधिकतर यह सर्वर स्लो रहता हैं और एक साथ कई Visitor को झेल नहीं पाता इस लिए  हमेशा होस्टिंग अच्छा लेना चाहिए ताकि आपकी वेबसाइट Fast हो. 

Hosting को SEO  का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता हैं. अगर आपका होस्टिंग अच्छा नहीं हैं तो, आप कभी भी  SEO का पूरा Benefits नहीं ले सकते.

3 – SSL

SSL Certificate का होना एक सुरक्षित ब्लॉग की पहचान होती हैं. जो User को गारंटी देता हैं की उसका सारा Data सुरक्षित हैं.  जो  Protocol Internet Browser और websites के के बीच में एक सुरक्षित सम्बन्ध स्थापित करता हैं.

SSL का Fullform क्या हैं?

SSL Secure Sockets Layer

4 – logo 

अपने ब्लॉग को Professional बनाने के लिए सबसे पहले अपना एक logo बनाये क्युकि Logo एक तरह का  Symbol होता है जो आपकी ब्रांड की पहचान बताता है.

अपने ब्लॉग को User Friendly बनाने के लिए Logo का भी महत्वपूर्ण भूमिका होती हैं.  logo Text और Image को मिलकर बनाया जाता हैं. आपने  ब्लॉग में  logo अवश्य लगाये.

5 – Favicon icon

फ़ेविकॉन एक तरह का small icon होता है. जो website को web browser में identify करता है.  favicon से आपका blog Professional दिखता हैं. जो website के  address bar के left side में show होता हैं.

6- Homepage Title :-  

आप अपने SEO प्लगइन की Setting में जाकर अपने ब्लॉग के  Title को लिखे जो आपके डोमिन या ब्लॉग Niche से Relevant हो.

7- Homepage Meta Description

ब्लॉग के Title को लिखने के बाद हम अपने होम पेज का Meta Description  को लिखते हैं. जो 155–160 characters का होगा. 

और आपको 155–160 characters के अन्दर ही अपने ब्लॉग का पूरा परिचय देना होता हैं. जिसे देखकर User समझ जाता हैं की आप अपने ब्लॉग में क्या क्या सुविधा प्रदान करते हैं.

On Page SEO Page Loading Speed hindi

8- Page Loading Speed

किसी भी Blog या Page की Loading Time का, On Page Blog SEO में सबसे महत्वपूर्ण Factor माना जाता हैं. अगर आपके ब्लॉग की स्पीड फास्ट हैं तो, आप  की Ranking  सर्च इंजन में तेज़ी के साथ Increase होगी और आप Search Result के Top Position पर होंगे.

अगर आपको Blogging के Field में सफल होना हैं तो सबसे पहले आपको अपने Blog या Page की Loading Time  का ध्यान देना होगा.

अपने ब्लॉग की लोडिंग टाइम को सही करना हैं तो इसके लिए होस्टिंग अच्छी ले और साथ ही Loading Time कम करने के लिए वर्डप्रेस के कई प्लगइन भी मौजूद हैं जिसका उपयोग करके ब्लॉग की स्पीड बढ़ा सकते हैं. 

नोट:- अपने ब्लॉग की स्पीड को फ्री में नीचे दिए गए Website Speed Test Tools से check कर सकते हैं.

GTmetrix PageSpeed Insights
On-Page SEO Social Sharing Buttons hindi

9- Social Sharing Buttons

सोशल मिडिया शेयरिंग बटन का एक ब्लॉग में होना बहुत ही जरुरी होता हैं. जब भी कोई भी User आपके Article को पढ़ रहा होता हैं और उसे वह आर्टिकल पसंद आया तो उस पोस्ट को आसानी से अपने दोस्तों को Social Site पर Share कर सकता हैं,

जिसके कारण आपके ब्लॉग पर Organic Traffic आने की संभावना और अधिक बढ़ जाती हैं. Social Sharing Buttons को आप अपने वर्डप्रेस ब्लॉग पर आसानी Social Sharing Plugin द्वारा Install कर सकते हैं.


  नोट:-   अगर आप सोशल मिडिया शेयरिंग बटन को अपने ब्लॉग में ऐड करना चाहते हैं. तो हमारा यह आर्टिकल पढ़े:- Add Social Share Buttons To WordPress Hindi


 

9- Plugin

हमेशा हम अपने ब्लॉग की Design  और अपनी सुविधा हेतु ढेरो Features को plugin के माध्यम से add कर लेते हैं लेकिन हम यही सबसे बड़ी गलती हैं.

On Page SEO Techniques हमेशा यह ध्यान देता हैं आपका ब्लॉग साफ़ सुथरा हो और website की Loading Time कम से कम हो. लेकिन वही हम ढेरो plugin को Install कर लेते हैं जिसके कारण हमारी website slow हो जाती हैं.

 slow website के कारण हमारे ब्लॉग  पर आये Visitors हमारे ब्लॉग को छोड़ कर दुसरे ब्लॉग पर चले जाते हैं और इसी कारण हम गूगल सर्च इंजन में हमारा ब्लॉग रैंक नहीं कर पाता हैं.

नोट:- WordPress blog पर आपको उतने ही Plugin को Add करे, जो जरुरी हो अन्यथा ना करे जितने अधिक Plugins होंगे उतना ही Slow होगा आपका Blog इस लिए कम से कम और जरुरी Plugin ही Add करे.

On Page SEO Responsive Template hindi

अगर आप वर्डप्रेस में इस्तेमाल करने वाले सबसे महत्वपूर्ण Plugin कौन-कौन से हैं नहीं जानते हैं तो हमारा नीचे दिए गए आर्टिकल को जरुर से पढ़े और जाने Free Important best WordPress Plugin को. 

  Also Read More:    WordPress Plugins In Hindi

10- Responsive template

आपके ब्लॉग का template Responsive होना चाहिए.  Responsive template का Design User Friendly होता हैं. जो अलग-अलग Devices पर perfectly खुलता हैं. चाहे वो 

  • Desktop
  • Mobile 
  • Tablets,
  • IPads,
  • IPhones

हो या अन्य कोई  Devices हो सभी में perfectly खुलता हैं. आप अपने ब्लॉग पर जरुर Responsive template का ही इस्तेमाल करे. ताकि आपका ब्लॉग User को पसंद आये और बार-बार वो  User आपके ब्लॉग पर आये.

On Page SEO Search Engine Submission hindi

11- Search Engine Submission

सर्च इंजन Submission Blog SEO का सबसे महत्वपूर्ण भाग होता हैं. क्युकि हम अपने ब्लॉग का SEO सर्च रेजेल्ट के टॉप में आने के लिए करते हैं.

इस लिए हमें अपने ब्लॉग का पूरा Setup Complete करने के बाद Google Console, Bing Webmaster Tools जैसे  Search Engine में अपने Blog को जरुर से Submission करना चाहिए. 

12- Index Site Map

अपने Blog को Google Search Engine में  Submit करने के बाद.  अपने ब्लॉग के पोस्ट पेज और केटगरी का Site Map बनाये और उसे सर्च इंजन में Index करे.

साईटमेप को सर्च इंजन में Submit करना  सबसे जरुरी होता हैं. Site Map के द्वारा ही गूगल आपके ब्लॉग में की गई पोस्ट को  अपने Data में Index करता हैं.

और जब भी आपके आर्टिकल से जुड़ा कोई भी  Keyword सर्च इंजन में User Search करता हैं. तब गूगल के Crawlers को आपकी पोस्ट के विषय में भी पता होता हैं और आपके Article की गुणवक्ता के अनुसार अपने रेजेल्ट में Show करता हैं.

सोचे अगर आपका Site Map गूगल Search Data में Index  नहीं हैं तो कैसे आपका पोस्ट सर्च इंजन में दिखायेगा गूगल? और जब आपकी साईट या पोस्ट सर्च में आएगी ही नहीं तो आपका ब्लॉग पर मेहनत करना बेकार होगा.

इसी लिए आप जरुर से इनडेस्क कराये अपने Site Map को जिसे आसानी से अपने SEO Plugin से बना सकते हैं और उसे गूगल में Index करा सकते.  

तो मैं आशा करता हूँ आप को Blog On Page SEO Kaise Kare में जरुर जाना होगा और सीखा की कैसे Blog का On Page Search Engine Optimization करते हैं. और क्यूँ सबसे पहले एक ब्लॉग के लिए जरुरी होता हैं.

  Also Read More:    What Is WordPress In Hindi

तो आईये अब On Page SEO Kaise Kare की पोस्ट में जानते हैं और सीखते हैं On Page SEO के Best Techniques को जिसे सभी सफल ब्लॉगर इस्तेमाल करते हैं.

तो अब best On Page SEO Kaise Kare  के इस भाग में जानते हैं अपने सभी आर्टिकल पर एसईओ क्यों करते हैं? और साथ ही सीखते हैं On Page एसईओ कैसे करते हैं.

जब भी हम नया आर्टिकल लिखते हैं और उसे Publish करते हैं तो सोचते हैं जल्द से जल्द हमारा आर्टिकल गूगल के रिजेल्ट पेज में Top पर Show हो.

ताकि हमारे पोस्ट को Organic Traffic मिले और अधिक से अधिक Earning कर सके. लेकिन एसा हो नहीं पता आप का आर्टिकल रेंक नहीं हो पाता Search Engine में. और आप उदास हो जाते हैं.

नोट:- क्या आपने कभी सोचा Unique Article होने के बाद भी Search Engine में Rank नहीं हो पाता आखिर इसका क्या कारण हैं?

तो अब इसी सवाल का जवाब जानते हैं. और सबसे पहले जानते हैं अपनी 5 गलतियों को जिसकी वजह से हम रेंक नहीं कर पाते.

1 हमारे आर्टिकल का रेंक नहीं करने का सबसे बड़ा कारण होता हैं हमारे आर्टिकल जिसमे दी गई आधी-अधूरी जानकारी.
2 किसी दुसरे के ब्लॉग के Content को Copy करके उसमे थोडा बहुत सुधार कर के पोस्ट कर देना.
3 SEO Techniques का स्मार्ट तरीके से इस्तेमाल ना करना.
4 बिना Keyword Research के पोस्ट लिखना.
5 SEO Plugin का इस्तेमाल नहीं करना.

तो आपने जाना आर्टिकल की 5 Major SEO Mistake को जिसके कारण हमारा पोस्ट गूगल Search Engine में Rank नहीं कर पाता.

Article par On Page SEO Kaise Kare

On Page Article SEO

चलिए अब सीखते एक-एक कर के अपने  Article को Search Engine Friendly बनाने के महत्वपूर्ण SEO Techniques को जिसे हम On Page SEO के नाम से जानते हैं.

जो हमारे आर्टिकल को Search Engine Friendly बनाने के साथ साथ User Friendly भी बनाता हैं. और गूगल Result में Ranking दिलाने में मदद करता हैं.

तो अब on page seo in hindi के इस भाग में सीखते हैं अपने Article पर On Page SEO Kaise Kare ? जिससे हमारा आर्टिकल Google Search Engine के Top page पर रैंक कर सके.

  Also Read More:   What Is WordPress Admin Dashboard In Hindi?
Keyword Research Blog Article Post SEO

13- Keyword Research

Blogging के Field में असफलता मिलने का सबसे बड़ा कारण होता हैं. हमारे द्वारा लिखे जाने वाले आर्टिकल के Keyword का proper तरीके से Research नहीं करना होता हैं. 

अगर हमें अपने आर्टिकल को गूगल सर्च में रैंक करना चाहते हैं तो? आप आर्टिकल लिखने से पहले, उस आर्टिकल के Focus Keyword का अच्छे तरीके से Research करे.

नोट:- Keyword Research के लिए Market में बहुत से Tools उपलब्ध हैं जिनका इस्तेमाल आप कर सकते है.

Free Keyword Research Tools:- के लिए आप Ubersuggest का इस्तेमाल कर सकते हैं. जो की जाने माने SEO Expert Neil Patel की हैं.

Unique Article

14-  जब भी हम किसी SEO Expert से पूछते हैं की, अपने पोस्ट को कैसे Rank कराये? तो सभी का सबसे पहले एक ही जवाब होता हैं की Unique Article लिखे जो User के लिए Usefull हो. “क्युकि

Content Is King

SEO Factors:- के हिसाब से भी देखा जाए तो, सबसे पहले यही आता हैं की आपका आर्टिकल कैसा हैं? Content की  Length कितनी हैं. 

Content में दी गई जानकारी कैसी हैं? आर्टिकल आधा अधुरा तो नहीं हैं? या आपके आर्टिकल में दी गयी जानकारी गलत तो नहीं हैं?

आप के द्वारा लिखा गया आर्टिकल  User के लिए Usefull हैं की नहीं. यह इसी लिए देखना जरुरी होता हैं. क्युकी आज के समय में गूगल अपने User को Best से Best Content उपलब्ध करना चाहता हैं. 

गूगल अपने सर्च इंजन के टॉप पर वही पोस्ट लाता हैं जिसका Content Unique हो, उसमे दी गयी जानकारी सही हो, और साथ ही विस्तार से हो आधी अधूरी जानकारी नहीं हो.

तो आईये अब जानते हैं और सीखते हैं Unique Article से जुड़े कुछ Tips को जिन्हें हम On Page  SEO Techniques कहते हैं. जिसे गूगल पसंद करता हैं.

  Also Read More:    WordPress की Setting Kaise Kare

15- Keywords Placement :-

ऑन पेज एसईओ का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा हिस्सा होता हैं. क्युकि Search Engine में हम अपना Keyword ही रैंक करते हैं और उसी Keyword से हमारे ब्लॉग पर Visitors आते हैं. 

और google के Crawlers भी आपके Focus Keyword को ही देखता हैं . और जब भी कोई आपके द्वारा आर्टिकल में दिए गए Keywords को सर्च करता हैं तब google आपके आर्टिकल को भी अपने रिजेल्ट पेज पर दिखाता हैं.

तो आईये जानते हैं  On Page SEO Kaise Kare  में अपने आर्टिकल में Focus Keyword को कैसे Placement जिससे हमारी पोस्ट को रैंक करने में आसानी हो.
  • सबसे पहले Keyword को अपने Post Title में use करें.
  • Focus Keyword को subheading (H2 tag) में use करें.
  • Article के पहले पहली line यानी कि 100 word के अंदर keyword का use करें.
  • Article के last paragraph में भी keyword को use करें.
  • LSI keywords को blog post के बीच में use करें.

16- Keywords Density 

नोट:- सर्च इंजन मे higher Result पाने के लिए Keywords Density का अधिक  ध्यान रखा जाता हैं.

जब भी हम अपना आर्टिकल लिखते हैं तो उसके लिए सबसे पहले, पोस्ट के विषय से मिलता हुआ एक Keywords का चयन करते हैं. जो हमारे आर्टिकल का Focus Keyword होता हैं.

जब भी हम अपनी पोस्ट को लिखे तो अपने फोकस कीवर्ड को placement करते समय हमेशा ध्यान रखे आपके Keywords की Density 2.5 % से कम ही हो.

जिससे गूगल को अच्छे से समझ में आ जाए आपका पोस्ट किस Subject पर लिखा गया हैं. और अगर आपने Keywords placement के दौरान Keywords Density का  सही से use किया तो आपके Chances अधिक बढ़ जाते हैं Google के top page पर आने के.

नोट:- अपनी पोस्ट में Keyword की Density 2.5 % के भीतर ही हो अगर इससे अधिक रखा तो वो गूगल की नज़र में वो Keyword Stuffing कहलाता हैं. गूगल उस पोस्ट को Hate की नज़र से देखता हैं.

17- Permalink 

 Permalink या URL हमारे ब्लॉग पोस्ट को रैंक कराने में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं. ज्यादातर blogger इसको importance नहीं देते और ignore कर देते हैं.

जो उनकी Major Mistake होती हैं. जिसके कारण  Google Crawlers को असुविधा होती हैं जानने में की आपका आर्टिकल किस विषय पर हैं.

और इसी कारण गूगल आपके पोस्ट को ठीक से अपने Search Engine Database में Index  नहीं कर पाता  और इसी के कारण आपकी पोस्ट Search Result में show नहीं हो पाती.

नोट:- आप अपने Permalink में अपने आर्टिकल का Focus Keyword जरुर डाले जिससे आपका पोस्ट Search Engine और User Friendly हो जाए ताकि आपकी Post Fast Rank हो.

Internal Links On Page SEO Kaise Kare

18- Internal Links

Internal Links से हम अपने आर्टिकल को और भी Powerful बना सकते हैं. साथ ही साथ User को अपने ब्लॉग पर अधिक समय तक  engage कर सकते हैं.  

जरा आप सोचे आप शादी के लिए कपड़ों की shopping कर रहे रहे और आप साड़ी लेने एक shop में गए वहा  आपको साड़ी के साथ साथ लहंगा, चुन्नी, घाघरा, दुपट्टा सहित अन्य कपडे भी मौजूद हैं.

जो आपको जरुरत हैं. तो आप उसे जरुर देखेंगे और लेंगे भी क्युकी shop पर वह सब सामने मौजूद हैं जिनकी आपको जरुरत हैं.

ठीक उसी तरह हम हमारे आर्टिकल को पढ़ रहे User को, अपने ब्लॉग पर engage कर सकते हैं उनकी जरुरत  और पसंदीदा विषय से जुड़े ब्लॉग पर किये गए अन्य पोस्टों के  Internal Links दे कर. 

इसके लिए आप अपने आर्टिकल के विषय से जुड़े ब्लॉग पर Publish किये गए post के लिंक को अपने आर्टिकल में add करे keyword का इस्तेमाल करते हुए anchor text के अंदर.

ताकि यूजर आपके link को click कर के आपके ब्लॉग के अन्य पोस्ट को भी पढ़ सके और आपके दूसरे pages पर वो  engage हो जाए.

Internal links हमारे पोस्ट को रैंक कराने में बहुत मदद करता हैं. इसके जरिये हम अपने पुराने आर्टिकल पर भी  traffic ला सकते हैं.

हमारे ब्लॉग की Authority भी बढ़ेगी Ranking Increase होगी साथ ही साथ blog का bounce rate भी कम रहता हैं. 

नोट:- आप उन्ही पोस्टो को इंटर्नल लिंक्स के रूप मे Add करे जो आपके आर्टिकल के विषय से जुड़ा हो.

Example:- मान लीजिये आपका पोस्ट On Page SEO Kaise Kare पर आधारित हैं तो आप के इस आर्टिकल को वही User पढ़ेगा जिसे On Page SEO से जुडी जानकारी को पाने और सीखने के लिए पढ़ेगा 

और उसी यूजर उसी पोस्ट पर SEO से जुड़े अन्य पोस्टो की लिंक दिखती हैं तो  जिसने SEO से जुड़ी अन्य जानकारी को बताया गया हैं. तो उसे  यूजर जरुर OPEN करता हैं. 

माना की आपकी पोस्ट:- On Page SEO Kaise Kare और इसी पोस्ट पर आपको दिखे अन्य नीचे SEO से जुड़े Internal links जैसे :-

 Also Read More: What Is SEO And How It Works In Hindi
Also Read More:  How To Full Setup Of Rank Math SEO Plugin
Also Read More:  Yoast SEO Plugin Setup WordPress In Hindi

तो आप इन्हें जरुर पढ़ना चाहेगे क्युकि यह पोस्ट भी आपके लिए उपयोगी हैं क्युकि आप SEO से जुड़ी जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़ रहे हैं.

External Link  On Page SEO Kaise Kare

अब On Page SEO Kaise Kare में जानेगे External Link क्या हैं? और इसका क्या महत्त्व होता हैं हमारे पोस्ट ले लिए.

External Link को हम Outbound Links भी कहते हैं. संक्षेप में समझे तो यह हमारे द्वारा लिखे गए आर्टिकल पर आप दूसरे site को कोई link देते हैं तो हम उस लिंक को Outbound या External link कहते हैं.

External link (बाहरी लिंक) हमारे आर्टिकल को और भी Powerful बना देता हैं. साथ ही आपका आर्टिकल User के लिए और अधिक Usefull हो जाता हैं.  

और आपके आर्टिकल को Search Engine में Rank करने में मदद करता हैं. और इसे गूगल अधिक पसंद करता हैं.   क्युकि गूगल हमेशा अपने User को Unique Content ही  उपलब्ध (Available)  कराना पसंद करता हैं.

अपने आर्टिकल  पर किसी दुसरे के ब्लॉग का लिंक देना होता हैं. जो आपके आर्टिकल के Topic से Related होता हैं और उसकी Information जो User के लिए जानना Important  होता हैं. 

Outbound link से हमें दो फायदे होते हैं. पहला तो हमारा Complete Information उपलब्ध कराने वाला Unique आर्टिकल बन जाता हैं.  
दूसरा गूगल External Link के कारण आपके आर्टिकल के  Ranking Factor में और अधिक महत्त्व देता हैं. और जल्द से जल्द सर्च इंजन में  Rank करता हैं.

इसलिए SEO Expert  का कहना हैं की External Link या यु कहे Outbound Link हमारे आर्टिकल के लिए SEO Factor की नज़र से यह Important होता हैं.

  नोट:-    हमेशा ध्यान रखे की दुसरे ब्लॉग के आर्टिकल का वही External Linking करना हैं जो आपके के आर्टिकल के Topic से मिलता जुलता हो.

साथ ही यह भी ध्यान देना हैं जिस ब्लॉग को अपने आर्टिकल पर लिंक कर रहे हैं उसका DA (Domain Authority), PA (Page Rank) अच्छा होना चाहिए.

20- Image videos

हमारे आर्टिकल को और अधिक Unique और User को engage करने के लिए हम Multimedia का इस्तेमाल करते हैं. 

आज के समय में लोग text content के साथ साथ media contents से और अधिक attract होते हैं. इसके लिए आप पोस्ट की topic से मिलते images, videos  या high quality के infograph का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

जो हमारी मदद करेगा आर्टिकल पर User को Engage करने में. और यूजर हमारे ब्लॉग पर ज्यादा समय तक रुकेगा, जिससे हमारे ब्लॉग का Bounce Rate अच्छा होगा और आपका dwell time increase होगा.

ध्यान दे:- हम जब भी अपने Text Content में कोई भी Images को ऐड करते हैं तब कुछ बातो का हमें ख्याल रखना चाहिए.

तो आईये अब जानते हैं “On Page SEO Kaise Kare” में क्या हैं वो खास बाते जिनका हमें ध्यान रखना Images को ऐड करते Time.

21- Image Size

आर्टिकल के अन्दर जब भी कोई इमेज को ऐड करे तो उसकी साइज़ को compress करना नहीं भूले.  पोस्ट ऑप्टिमाइजेशन के दौरान हम ध्यान देते हैं की हमारे ब्लॉग का लोडिंग टाइम ना बढे. Image की size कम से कम हो ५० KB के अन्दर ही हो.

इसके लिए हमें अपने इमेजेस के size को compress करना होता हैं.  जिसके लिए वर्डप्रेस पर कई प्लगइन मौजूद हैं. और साथ ही online Compressjpeg जैसे tools भी मौजूद हैं.

Image की size को Compress करने में जिनका आप बड़ी ही आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं. और अपनी पोस्ट को फ़ास्ट कर सकते हैं.

   ध्यान दे:-    BLOG की सभी add की जाने वाली Images के लिए best Compress Plugin भी वर्डप्रेस के लिए उपलब्ध हैं. अगर आप Image Compression Plugin का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो जरुर पढ़े हमारा यह पोस्ट :-

  Also Read More:     How To Use Wp-Smush Image Compression Plugin Hindi  

22- Image Alt tag

 जैसा की गूगल सिर्फ आप का आर्टिकल को ही नहीं show करता अपने सर्च इंजन में बल्कि उसके साथ-साथ google अपने Images Search Engine में, आपके द्वारा ब्लॉग में add किये गए images को भी show कराता हैं,

इसके लिए हमें गूगल के Crawlers को बताना होता हैं की हमारे द्वारा add किया गया Image किस topic पर हैं. गूगल को यह बताने के लिए हम इमेज को properly Optimize करते हैं.

अपने इमेजेस को properly तरीके से Optimize करने के लिए हमें सबसे पहले Image Title लिखते हैं. जिस टॉपिक पर आपने इमेज को बनाया हैं. 

टाइटल लिखने के बाद अपने इमेज में targeted keyword के साथ alt tag को add करना हैं.  ताकि आपका Image properly तरीके से Optimize हो सके जिससे Google के Crawlers आसानी से read कर पाए.  

23- Video 

हम अपने कंटेंट और और भी उपयोगी बना सकते हैं वीडियो कॉंटेंट की मदद से जिससे हमारे आर्टिकल को read कर रहे User को और अधिक देर तक Engage कर सकते हैं. 

जिससे Dwell Time Increase होता हैं. Google में rank करने के लिए सबसे important factor होता हैं. आपके पोस्ट पर visitors कितना समय देता हैं.

अगर visitor आपके पोस्ट पर जा के तुरंत वापस आ जाता हैं तो गूगल समझता हैं की आपका पोस्ट उपयोगी नहीं और आपकी ranking down करने लगता हैं. 

वही अगर आपके पोस्ट पर visitor अधिक समय देता हैं तो google को लगता हैं आप का आर्टिकल यूजर के लिए उपयोगी हैं. तब ही देर तक आप के पोस्ट पे रुका हैं.

तब गूगल आपके पोस्ट की उसका ranking को better करता हैं और Search Result में  No.1 की Position में दिखाता हैं.  

गूगल आज के समय में बहुत ही स्मार्ट हो गया हैं. वो आपकी हर एक छोटी से छोटी बातों को भी नोटिस करता है. और उन्हें अहमियत भी देता है.

इसीलिए एसईओ फ्रेंड्ली पोस्ट लिखना आज के समय में बहुत ज़रूरी होता है. साथ ही Visitor को अपने आर्टिकल पर रोकना होगा. क्युकि जितनी देर Visitor पर Page पर रुकेगा उतना ही आपके ब्लॉग की Ranking Better होगी.

Conclusion :- 

जैसा की हम सभी जानते हैं की हमारी वेब साईट के लिए सबसे जरुरी होता हैं सर्च इंजन में अपने आर्टिकल को रेंक करना ताकि Search Engine से हमें अधिक से अधिक Organic Traffic मिल सके और हम अधिक से अधिक Online Earning कर पाए एक सफल ब्लॉगर की तरह.

On Page SEO Kaise Kare? की post को लिखने का उद्देश्य यही हैं की आप सीख सके सबसे बेहतरीन On Page SEO के Unique Techniques को और आप भी बने सके Successful Blogger.  

Final Word :-

आशा करता हूँ आपने  On Page SEO Kaise Kare ? की पोस्ट में जरुर सीखा होगा की कैसे अपने Article को Unique बनाना हैं. On Page SEO की Techniques को अपना कर.

अगर आपको हमारे On Page SEO Kaise Kare ? 2020 पोस्ट के अन्दर किसी भी तरह की कोई दिक्कत आ रही हैं तो आप हमसे पूछ सकते हैं कमेन्ट या हमें ईमेल के जरिये.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *